♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

हरियाणा के राज्यपाल बंडारु दत्तात्रेय ने विजय दिवस की 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर पूर्व सेना अधिकारियों को किया सम्मानित

हरियाणा के राज्यपाल बंडारु दत्तात्रेय ने वीरवार को राजभवन में विजय दिवस की 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित ‘‘एक शाम शहीदों के नाम’’ समारोह में 1971 के युद्ध में शामिल रहे पूर्व सेना अधिकारियों को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि आज देश में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है साथ ही देश में विजय दिवस की 50वीं वर्षगांठ मनाई जा रही है। इन दोनों शुभ पर्वों की देश व प्रदेश की जनता को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि आज से 50 साल पहले भारतीय सेना ने फील्ड मार्शल जनरल सैम मानेकशाह के नेतृत्व में पाकिस्तानी सेना को मात्र 13 दिन के युद्ध में आत्मसमर्पण करने पर मजबूर कर दिया था और पाकिस्तान का गुरूर चूर-चूर किया था। 16 दिसम्बर 1971 को पाकिस्तानी सेना के जनरल ए.ए.के. नियाजी ने 93000 सैनिकों के साथ लैफिटनैंट जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा के सामने सरैंडर किया।
राज्यपाल ने कहा कि उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में स्वदेशी डिफेंस इंडस्ट्री का आधुनिकीकरण किया गया है। प्रधानमंत्री जी ने देश में पहली बार तीनों सेनाओं के समन्वय के लिए चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का पद सृजित किया। इस पद पर पहली बार जनरल बिपिन रावत की नियुक्ति की गई। जनरल रावत ने सेना के आधुनिकीकरण और सामरिक क्षेत्र को मजबूती प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जनरल रावत गत 8 दिसम्बर को हेलिकॉप्टर दुर्घटना में वीर गति को प्राप्त हुए। राज्यपाल ने कहा कि हरियाणा में सैनिक, पूर्व सैनिक व उनके परिवारों के कल्याण के लिए अलग से विभाग का गठन किया है। विभाग के माध्यम अनेक योजनाएं लागू की गई हैं। 60 वर्ष व इससे अधिक आयु के भूतपूर्व सैनिक व उनकी विरांगनाओं व भूतपूर्व सैनिकों के अनाथ बच्चों तथा 1962, 1965 व 1971 की युद्ध विधवाओं को दी जाने वाली आर्थिक सहायता 2016 से 2000 रुपये से बढ़ाकर 5000 रूपयें मासिक की गई है। इस राशि में प्रति वर्ष हरियाणा दिवस के अवसर पर 400 रुपये की वृद्धि की जाती है। उन्होंने इन योजनाओं को क्रियान्वित करने के लिए विशेष रूप से मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी को बधाई दी।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

  • 20% (42%, 5 Votes)
  • 50% (25%, 3 Votes)
  • 70% (17%, 2 Votes)
  • 100% (17%, 2 Votes)

Total Voters: 12

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809 666 000